s
By: RF Competition   Copy   Share  (190) 

भीमबेटका शैल चित्रकलाएँ | Bhimbetka Rock Paintings

1812

भीमबेटका भोपाल के दक्षिण में मध्यप्रदेश की विंध्य पर्वत श्रृंखलाओं में स्थित है। इन शैलाश्रयों में 500 से अधिक शैलचित्र हैं। सन् 2003 में यूनेस्को ने इन्हें अपनी विश्व विरासत धरोहरों की सूची में सम्मिलित किया।

Bhimbetka is situated in the Vindhya mountain ranges of Madhya Pradesh, south of Bhopal. There are more than 500 rock paintings in these rock shelters. In 2003, UNESCO included them in its list of World Heritage Sites.

"भारतीय कला एवं संस्कृति" के इन 👇 प्रकरणों को भी पढ़ें। (Also read these 👇 episodes of "Indian Art and Culture".)
भारतीय चित्रकलाएँ– परिचय, सिद्धांत, शैलियाँ | Indian Paintings– Introduction, Principles, Styles

सर्वाधिक प्राचीन चित्र लगभग 30,000 वर्ष पुराने अनुमानित किये गये हैं। ये चित्र गुफाओं में अन्दर स्थित होने के कारण अभी बचे हुये हैं। इन गुफाओं के अधिकार में लगभग 1,00,000 ईसा पूर्व से 1000 ईसवी के मध्य स्पष्ट निरंतरता है। इन गुफाओं की चित्रकलाओं के अंतर्गत अन्यथ चित्रों के ऊपर दूसरी चित्रकारी की गई है। इन गुफाओं में उत्तर पाषाण काल, मध्यपाषाण काल, ताम्रपाषाण काल, प्रारंभिक ऐतिहासिक काल और मध्यकाल में चित्रण किया गया था। अधिकांश चित्रों का चित्रण मध्य पाषाण काल में किया गया था।

The oldest paintings are estimated to be about 30,000 years old. These paintings have survived due to being located inside the caves. The authority of these caves has a clear continuity between about 100,000 BC to 1000 AD. Under the paintings of these caves, other paintings have been done above the paintings. These caves were depicted in the Late Paleolithic, Mesolithic, Chalcolithic, Early Historic and Medieval periods. Most of the paintings were painted in the Mesolithic period.

"भारतीय कला एवं संस्कृति" के इन 👇 प्रकरणों को भी पढ़ें। (Also read these 👇 episodes of "Indian Art and Culture".)
स्वातंत्र्योत्तर वास्तुकला― लॉरी बेकर और चार्ल्स कोरिया | Post-Independence Architecture― Laurie Baker And Charles Correa

इन चित्रकलाओं में सामान्य रूप से प्राय: छड़ी जैसी मानव आकृतियों के माध्यम से प्रागैतिहासिक मानव की दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों को प्रदर्शित किया गया है। इन चित्रों में कुछ प्रमुख पशुओं जैसे- हाथी, गौर (जंगली भैंसे), हिरण, मोर और साँप की आकृतियों का चित्रण किया गया है। इन चित्रों में शिकार के दृश्यों और युद्ध के दृश्यों को प्रदर्शित किया गया है। इसके अंतर्गत चित्रों में मनुष्यों को धनुष, तीर, तलवार, भाले और ढाल धारण किये हुये दिखाया गया है। कुछ चित्रकलाओं में सरल ज्यामितीय अभिकल्पनाएँ एवं प्रतीक भी हैं। चित्रकला के अन्य प्रमुख विषय वस्तुएँ, नृत्य, संगीत बजाना, पशुओं की लड़ाई और शहद एकत्र करना आदि हैं।

These paintings depict the day-to-day activities of prehistoric humans in general, often through stick-like human figures. Some of the major animals such as elephant, gaur (wild buffalo), deer, peacock and snake figures have been depicted in these paintings. These paintings depict hunting scenes and battle scenes. Under this, human beings are shown holding bows, arrows, swords, spears and shields in the paintings. Some of the paintings also have simple geometric designs and symbols. Other major themes of painting are dance, playing of music, fighting with animals and collecting honey.

"भारतीय कला एवं संस्कृति" के इन 👇 प्रकरणों को भी पढ़ें। (Also read these 👇 episodes of "Indian Art and Culture".)
वास्तुकला की राजपूत शैली व शिख शैली तथा अवध वास्तुकला | Rajput Style And Sikh Style Of Architecture And Awadh Architecture

खेल रहे बच्चे, खाना बना रही महिलाएँ, सामूहिक नृत्य आदि के माध्यम से चित्रों में सामाजिक जीवन का चित्रण किया गया है। चित्रों को रंग करने के लिए लाल भगवा, बैंगनी, बादामी, सफेद, पीले और हरे रंगों का प्रयोग किया गया है। रंगों के निर्माण के लिए प्राकृतिक संसाधनों का प्रयोग किया जाता था। उदाहरण के लिए हेमेटाइट अयस्क का प्रयोग लाल रंग के निर्माण के लिए किया जाता था।

Children playing, women cooking, group dances, etc. have depicted social life in pictures. Red, saffron, purple, almond, white, yellow and green have been used to color the paintings. Natural resources were used for the manufacture of colours. For example, hematite ore was used to manufacture red paint.

"भारतीय कला एवं संस्कृति" के इन 👇 प्रकरणों को भी पढ़ें। (Also read these 👇 episodes of "Indian Art and Culture".)
मुगल वास्तुकला― जहाँगीर, शाहजहाँ (ताजमहल), औरंगजेब | Mughal Architecture― Jahangir, Shah Jahan (Taj Mahal), Aurangzeb

आशा है, उपरोक्त जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।
धन्यवाद।
R F Temre
rfcompetition.com



I hope the above information will be useful and important.
(आशा है, उपरोक्त जानकारी उपयोगी एवं महत्वपूर्ण होगी।)
Thank you.
R F Temre
rfcompetiton.com

Comments

POST YOUR COMMENT

Categories

Subcribe